Instead of train accident victims, Adityanath Yogi visits Gaushala, trolled on social media

yogiUP Chief Minister Adityanath Yogi did not visit or show sympathy towards scores of people killed in Muzaffarnagar train accident. Instead, he visited a Gaushala and served cows there. Seeing this, hundreds of social media activists have flayed him on Facebook and Twitter. They said that Yogi is making people fool and is incapable to do something worthwhile as Chief minister.
रेल हादसे के बाद योगी पहुंचे गोशाला, नाराज लोगों ने कहा- तबेला ही खुलवा लो
लखनऊ. यूपी के खतौली रेलवे स्टेशन के पास शनिवार को पुरी-हरिद्वार एक्सप्रेस (उत्कल एक्सप्रेस) के 12 डिब्बे डिरेल हो गए। इस हादसे में 23 लोगों की मौत हुई है। वहीं 156 लोगों के घायल होने की सूचना है। इस हादसे के सीएम योगी घटना स्थल पर जाने के बजाए अगली सुबह गोशाला पहुंच गए। इसको लेकर ट्विटर पर लोगों ने गुस्सा निकाला। एक यूजर ने लिखा- ”कितने बच्चे मर गए, ट्रेन हादसे में कितने घर उजड़ गए, लेकिन CM साहब को इंसानों से ज्यादा गायों की चिंता है। CM हाउस में एक तबेला ही खुलवा लो।” एक ने लिखा- “आपसे कुछ होने वाला नहीं।” कहां थमा दिया यूपी को…
– @सावंत राना नाम के यूजर ने लिखा- ”बच्चों को बचा नहीं पाए। गौशाला जाकर लोगों को बेवकूफ बना रहे हो। आप से कुछ होने वाला नहीं है।”
– @पंकज ने लिखा- ”रेल हादसों के परिवारों के साथ होने के बजाए योगी गायों में chilling out.”
– @दिल्ली वाले नाम से एक यूजर ने लिखा- ”इनको किसी जंगल में काम करना चाहिए था। कहां यूपी थमा दिया।”
-@एकलव्य नाम नाम से एक यूजर ने लिखा- ”हद हो गई अब।”
हादसे के 12 घंटे बाद भी नहीं पहुंचे सीएम
– खतौली रेलवे स्टेशन के पास शनिवार को ये हादसा शाम को 5 बजकर 45 मिनट पर हुआ। इस हादसे के 12 घंटे बीत जाने के बाद भी सीएम योगी यहां नहीं पहुंचे। यूपी सरकार की ओर से मंत्री सतीश महाना और संजीव बालियान पहुंचे थे।
– योगी ने इस हादसे सिर्फ पर ट्वीट कर दुख जताया था। योगी ने ट्वीट किया था- ”उत्तर प्रदेश के जनपद मुजफ्फरनगर में हुई ट्रेन दुर्घटना दुखद। रेल हादसे में घायल यात्रियों का समुचित इलाज होगा, हर संभव मदद पहुंचाने के निर्देश दे दिए गए है।”
3 दिन बाद गोरखपुर मेडिकल कॉलजे पहुंचे थे योगी
– इससे पहले सीएम योगी को उस वक्त भी आलोचना का सामना करना पड़ा था जब गोरखपुर ट्रेजडी के दो दिन बीत जाने के बाद भी योगी मेडिकल कॉलजे नहीं गए थे।
– इसके बाद इस घटना के तीसरे दिन योगी गोरखपुर पहुंचे थे। बता दें, गोरखपुर के बीआरडी हॉस्पिटल में बीते दिनों 30 बच्चों समेत 60 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी।
योगी ने दिए जांच के आदेश
– योगी आदित्यनाथ ने रेल हादसे की हाईलेवल इन्क्वाइरी के निर्देश दिए हैं।
– उन्होंने कहा, ” ये बड़ा दुखद हादसा है। मौके पर हम लोगोें ने पुलिस और प्रशासन को भेजा है। यूपी सरकार के दो मंत्री सतीश महाना और सुरेश राणा को भेजा है। युद्धस्तर पर राहत कार्य किए जाएंगे। मृतकों और घायलों के परिजनों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। रेल मंत्रालय के साथ हम संपर्क में हैं। जो जरूरी कदम होंगे वो उठाए जाएंगे।”
– दिल्ली से NDRF, मेरठ से PAC, मुजफ्फरनगर के डीएम, एसएसपी, सहारनपुर के कमिश्नर, मेरठ के कमिश्नर, नोएडा में तैनात ATS और STF की टीमों को मौके पर रवाना किया गया है। रिलीफ एंड रेस्क्यू ऑपरेशन में तेजी के लिए पीएसी की 9 कंपनियों को खतौली पहुंचने के निर्देश दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *