17 killed after Baba Ram Rahim held guily of rape by court

Ram RahimChandigarh:  Just as feared, large clashes, arson and violence erupted in the town of Panchkula

in Haryana immediately after spiritual guru Gurmeet Ram Rahim Singh was convicted of raping two

women followers in 2002. Latest reports counted 13 dead and 150 injured in the violence in

Panchkula; the violence quickly spread to other cities including Delhi. Ram Rahim will be

sentenced on Monday and was flown in a government helicopter, reportedly to Rohtak. By 5 pm,

the army was called in to help regain control with 600 soldiers being deployed in Panchkula.

Before that, the police fired in the air, and used tear gas and water cannons to try and

disperse mobs of Ram Rahim supporters, but was easily outnumbered near the courthouse which

declared him guilty. More than a lakh of Ram Rahim’s followers had congregated in Panchkula for

the verdict, creating a precarious situation.

Here is your 10-point cheatsheet on this big story:

 

Prime Minister Narendra Modi has been briefed on the violence; Home Minister Rajnath Singh

has spoken to the Chief Ministers of the two worst-affected states, Punjab and Haryana.

A bus and two coaches of an empty train were set on fire in Delhi. Chief Minister Arvind

Kejriwal appealed for calm; the capital has been placed on high alert. Fire safety officials

said they had identified seven hot spots, mostly on the border with Haryana and were dealing

with nine cases of arson. The police in its satellite city of Gurgaon said the area is calm.

The skyline of Panchkula was covered in thick smoke by 5 pm. Ambulances were shuttling

injured people to local hospitals. At least one car and a fire engine were set on fire. The

media was attacked; an NDTV live broadcast van was set on fire and totally destroyed. An NDTV

engineer was held down by a mob and hit on the head.

The police was caught on camera retreating as Ram Rahim supporters advanced menacingly. The

Punjab and Haryana High Court has asked for a report on this tomorrow morning and has indicated

the policemen involved will be punished. The court has reportedly indicated that the many

properties of Ram Rahim’s sect will be seized to pay for the massive damages caused today to

public property.

The violence spread quickly to other towns including Bhatinda in Punjab and Sirsa in

Haryana, where Ram Rahim’s headquarters are located on a campus that extends to hundreds of

acres.

Two train stations were set on fire in Punjab in the towns of Malout and Balluanna. Nearly

200 trains that run through Punjab and Haryana have been cancelled.

Ram Rahim arrived for the verdict in a 200-car cavalcade and stood with his eyes closed and

hands folded in prayer as the verdict was delivered. By last night, Panchkula was over-run by

more than one lakh followers of Ram Rahim – clusters of them proliferated over the last two

days, despite the Haryana government’s claims of roping off the city.

Yesterday, the Punjab and Haryana High Court attacked the administration for failing to

make adequate arrangements against the overwhelming presence of Ram Rahim devotees in

Panchkula.

In a video message at midnight, Ram Rahim appealed to his followers to disperse and return

home, and urged them to keep calm. His request did not deter his devotees in Panchkula who said

they would remain in the town to show support for him. Many also said they wanted to glimpse

him in person.

Mobile internet services have been cancelled indefinitely in Haryana, though the city of

Gurgaon, which hosts large offices of multinationals, is exempt.

पंजाब-हरियाणा, राजस्थान में डेरा समर्थकों की हिंसा; पंचकूला में 17 मरे

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को सीबीआई कोर्ट ने शुक्रवार को यौन शोषण मामले में दोषी करार दिया।

चंडीगढ़. डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम (50) को सीबीआई कोर्ट ने शुक्रवार को यौन शोषण मामले में दोषी करार दिया। इस फैसले के बाद डेरा सपोर्टर्स ने 5 राज्यों

पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, यूपी और दिल्ली में हिंसा और आगजनी शुरू कर दी। पंचकूला के सिविल हॉस्पिटल के CMO के मुताबिक, 17 लोगों की मौत हो गई और 100 से ज्यादा

घायल हुए हैं। पंचकूला में समर्थकों ने करीब 100 से ज्यादा गाड़ियां फूंक दीं, यहां कर्फ्यू लगा दिया गया है। मलोट और बल्लूआना रेलवे स्टेशन भी फूंक दिए गए। इसके अलावा कई

जगह पेट्रोल पंप और सरकारी दफ्तरों में भी आग लगा दी गई। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस और आर्मी ने आंसू गैस के गोले छोड़े और हवाई फायरिंग भी की गई।

हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि कानून से खिलवाड़ करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। राम रहीम को हेलिकॉप्टर के जरिए रोहतक के सुनारिया स्थित पुलिस

ट्रेनिंग कैंप ले जाया गया। डेरा चीफ को 15 साल बाद कोर्ट ने दोषी करार दिया है, सजा का एलान 28 को किया जाएगा। अपडेट्स…

– खट्टर ने कहा, “कोई भी कानून से ऊपर नहीं है। कानून हाथ में लेने वालों के ऊपर सख्त कार्रवाई की जाएगी। लोगों से अपील है कि वो अफवाहों पर ध्यान ना दें और

आपराधिक मानसिकता वाले लोगों से दूर रहें।’

– हरियाणा के एडीजीपी (लॉ एंड ऑर्डर) मुहम्मद अकील ने कहा कि 1000 डेरा समर्थकों को हिरासत में लिया गया है।

– पंचकूला सिविल हॉस्पिटल में सिक्युरिटी बढ़ा दी गई है। उधर,दिल्ली में बीजेपी दफ्तर की सिक्युरिटी भी बढ़ा दी गई है।

– राजनाथ सिंह ने सभी लोगों से खासतौर से डेरा सपोर्टर्स से शांति बनाने की अपील की है।

– दिल्ली में आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर खड़ी रीवा एक्सप्रेस की बोगियों में आग लगाई गई। मंगोलपुरी, ख्याला समेत 7 जगहों पर बसों में तोड़फोेड़ की घटनाएं सामने आईं।

– पंचकूला के लिए 6 आर्मी कॉलम डिप्लॉय किए गए हैं। एक कॉलम में 75 से 100 जवान तक रहते हैं।

– हरियाणा के सिरसा में डेरा सच्चा सौदा के हेडक्वार्टर पर समर्थकों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े गए, पानी की बौछार डाली गई।

– दिल्ली बॉर्डर के इलाकों में अलर्ट कर दिया गया है। हरियाणा के सिरसा में भी समर्थकों ने हिंसा शुरू कर दी, जहां रैपिड एक्शन फोर्स तैनात कर दी गई है। यूपी में भी पश्चिमी

बॉर्डर के इलाकों में अलर्ट कर दिया जाएगा।

– पंचकूला में 20 से ज्यादा मीडिया कर्मियों की गाड़ियां फूंकी गईं। DainikBhaskar.com के रिपोर्टर संजीव महाजन की कार और फोटोग्राफर विजय कुमार की बाइक

फूंक दी गई।

– पंजाब के बठिंडा, मानसा और फिरोजपुर में कर्फ्यू लगा दिया गया है।

-डेरा समर्थकों ने चंडीगढ़ और पंजाब के कई में तोड़फोड़ शुरू कर दी है, कई गाड़ियों को आग लगा दी गई है।

– पंजाब के दो रेलवे रस्टेशन मलोट और बल्लूआना में आग लगा दी गई। चंडीगढ़ में दो मीडिया की दो ओबी वैन में भी सपोर्टर्स ने आग लगा दी।

– पंजाब में एक पेट्रोल पंप पर भी डेरा सपोर्टर्स ने आग लगा दी गई है। भटिंडा में भी ऐसा ही मामला सामने आया है। पंचकूला में 100 से ज्यादा गाड़ियां फूंक दी गई हैं।

– पुलिस फोर्स के ऊपर भी डेरा सपोर्टर्स ने पथराव किया।

– पंचकूला के सेक्टर-5 में डेरा सपोर्टर्स ने गाड़ियों में आग लगा दी। इसके बाद पुलिस की जगह सेना ने मोर्चा संभाला। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हवाई फायरिंग की और

आंसूगैस के गोले छोड़े।

– सपोर्टर्स ने मीडिया को भी निशाना बनाया और कई मीडिया कर्मियों को पीटा। मीडिया की ओबी वैन्स जला दी गईं।

– मानसा के इनकम टैक्स ऑफिस में नकाबपोश लोगों ने आग लगाई, वहीं मलोट रेलवे स्टेशन पर पेट्रोल बम फेंका गया। संगरूर के लहरागागा में तहसीलदार के दफ्तर में अज्ञात

लोगों ने लगाई आग।

दिल्ली में 7 जगह हिंसा, यूपी में बस फूंकी

– दिल्ली में आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर खड़ी रीवा एक्सप्रेस की बोगियों में आग लगाई गई। मंगोलपुरी, ख्याला समेत 7 जगहों पर बसों में तोड़फोेड़ की घटनाएं सामने आईं।

जगजीवन राम हॉस्पिटल के पास भी एक बस को आग लगा दी गई। यूपी के गाजियाबाद में दिल्ली-लोनी बॉर्डर पर बस में आग लगाई गई है।

सरकार ने की शांति बनाने की अपील

– राजनाथ सिंह ने सभी लोगों से खासतौर से डेरा सपोर्टर्स से शांति बनाने की अपील की है।

– दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी अपील की कि शांति को कायम रखा जाए।

देर रात सपोर्टर्स को खदेड़ा गया था

– हालात से निपटने के लिए सीएम मनोहर लाल खट्टर ने होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह से बात कर सेना बुला ली है। सिक्युरिटी फोर्सेस ने पंचकूला में देर रात सपोर्ट्स को सड़कों

से खदेड़ा गया। लाउडस्पीकर पर उन्हें पंचकूला छोड़ने के लिए कहा गया। ऐसा न करने पर कार्रवाई की चेतावनी दी गई।

– हाईकोर्ट में पंजाब की कानून-व्यवस्था के बिगड़ने की आशंका के चलते एक पिटीशन दायर की गई थी। हाईकोर्ट ने इस मामले में हरियाणा सरकार से भी सवाल-जवाब किए।

– HC ने हरियाणा सरकार से पूछा, “पंचकूला में हजारों डेरा समर्थक कैसे पहुंचे? सरकार लॉ एंड ऑर्डर मामले को लेकर नाकामयाब नजर आ रही है। लापरवाही के लिए क्यों

न हरियाणा के डीजीपी सस्पेंड कर दिया जाए?”

– “हम तीन दिन से देख रहे हैं कि वहां क्या चल रहा है। केंद्र जरूरी कदम उठाए, वरना हम आर्मी को निर्देश देंगे।” हाईकोर्ट की इस टिप्पणी पर केंद्र ने भरोसा दिलाया कि सभी

जरूरी कदम उठाए गए हैं।” वहीं, पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा- जरूरत पड़ने पर यहां भी कुछ जगहों पर कर्फ्यू लगाया जा सकता है।

क्या है मामला

25 अगस्त 2017:सीबीआई कोर्ट ने राम रहीम को दोषी करार दिया। सीबीआई एडवोकेट HPS वर्मा ने बताया कि डेरा चीफ को कम से कम 7 साल की सजा सुनाई जाएगी और

इसे उम्रकैद तक बढ़ाया भी जा सकता है।

17 अगस्त 2017: मामले की बहस खत्म हुई।

25 जुलाई 2017: कोर्ट ने रोज सुनवाई करने के निर्देश दिए ताकि केस जल्द निपट सके।

जून 2017: डेरा प्रमुख ने विदेश जाने के लिए अपील दायर की तो कोर्ट ने रोक लगा दी।

जुलाई 2016: केस के दौरान 52 गवाह पेश हुए। इनमें 15 प्रॉसिक्यूशन और 37 डिफेंस के थे।

2011 से 2016: लंबा ट्रायल चला। डेरा मुखी की ओर से अपीलें दायर हुईं।

अगस्त 2008: ट्रायल शुरू हुआ और डेरा मुखी के खिलाफ चार्ज तय किए गए।

जुलाई 2007: सीबीआई ने अंबाला सीबीआई कोर्ट में चार्जशीट फाइल की। यहां से केस पंचकूला शिफ्ट हो गया और बताया गया कि डेरे में 1999 और 2001 में कुछ और

साध्वियों का भी यौन शोषण हुआ, लेकिन वे मिल नहीं सकीं।

दिसंबर 2003: सीबीआई को जांच के निर्देश दिए गए। 2005-2006 के बीच में सतीश डागर ने इन्वेस्टिगेशन की और उस साध्वी को ढूंढा जिसका यौन शोषण हुआ था।

दिसंबर 2002: सीबीआई ब्रांच ने राम रहीम पर धारा 376, 506 और 509 के तहत केस दर्ज किया।

मई 2002: लेटर के फैक्ट्स की जांच का जिम्मा सिरसा के सेशन जज को साैंपा गया।

अप्रैल 2002ः पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट और तब के पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को एक साध्वी ने शिकायत भेजी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *