Family members murder and burn girl over love affair

murderAgra: In a case of honor killing, Family members murdered and burned a girl over love affair in Tajganj police station here. Nandini had an affair with a youth who got suspicious about her family members intentions and informed the police over mobile. However, it was late as body of the girl had already been cremated. The police has arrested 6 persons in this connection.
आगरा. ताजगंज थाना क्षेत्र में रविवार को ऑनर किलिंग का मामला सामने आया। लड़की की हत्या के बाद परिजनों ने लाश को श्मशान घाट पर फूंक दिया। ब्वॉयफ्रेंड ने पुलिस को मामले की सूचना दी, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने चि‍ता की हड्डि‍यों बरामद किया और फोरेंसिक टेस्ट के लिए भेज दिया। इस मामले में सीओ सदर उदयराज का कहना है, ”ऑनर किलिंग में परिवारवालों ने पहले नंदनी की हत्या की, इसके बाद उसके शव को जलाने की कोशि‍श की।”
प्रेमी ने फोन कर दी थी जानकारी
– सीओ सदर ने बताया, पुलिस ने शव जलाने वाले 6 लोगों को हिरासत में लिया है।
– रात करीब 10:30 बजे प्रेमी ने आगरा पुलिस को मामले की जानकारी दी। जब पुलिस युवती के घर पहुंची तो दरवाजे खुले थे, घर में कोई नहीं था। महिलाएं और बच्चे भागे हुए थे।
– पुलिस ने श्मशान घाट जाकर देखा तो युवती का 95 फीसदी जल चुका था।
– चिता पर पानी डालकर पुलिस ने आग बुझाई और शव के अवशेषों को कब्जे में लिया।
– आशंका है कि युवती की हत्या की गई। पुलिस अपनी ओर से सभी घरवालों के खिलाफ हत्या और सबूत मिटाने का मुकदमा दर्ज कर रही है।
– वहीं, पुलिस को एक फोटो भी मिला है, जिसमें युवती फांसी के फंदे पर झूल रही है।
– लेकिन, पुलिस का कहना है कि इस फोटो में सच्चाई कितनी है, इसकी भी जांच-पड़ताल की जा रही है।
– पुलिस के मुताबिक, हत्या करके शव को लटकाए जाने के बाद इस फोटो को खींचा गया है, जहां हत्या को आत्महत्या दर्शाने की कोशिश की गई है।
पिता ने कहा- नंदनी ने फांसी लगाई
– नंदनी के पिता भरतवीर का कहना है, वह गैर समाज के लड़के के साथ भाग गई थी, जिसको लेकर परिवार की बदनामी हो रही थी।
– बेटी को बार-बार समझाने की भी कोशिश की गई, लेकिन वह नहीं समझी और जब बेटी पर शिकंजा कसने की कोशिश की तो नंदिनी ने कमरे में जाकर फांसी लगा ली।
– वहीं, जब भरतवीर से यह पूछा गया कि उन्होंने शव को बिना पुलिस को सूचना दिए क्यों जलाया, तो उन्होंने कहा कि गलती हुई।
– इस मामले में ताजगंज पुलिस ने सभी हत्यारोपियों के खिलाफ धारा 302 , (हत्या) धारा 201 (हत्या के साक्ष्य मिटाना) के तहत मुकदमा दर्ज किया है।
– पुलिस पूरे मामले की वादी है। यानी पुलिस की ओर से लिखे गए इस मुकदमे में पुलिस ने सभी को जेल भेज दिया है और जांच-पड़ताल शुरू कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *