Debit card swindler challenges police to catch him if they can

debitIndore: Swindlers who cheat people by asking their bank account details have become so emboldened that they have started challenging police. Recently a Debit card swindler challenges police to catch him if they can. He said that you (police) can never catch us and we cheat about 30 people daily.
बदमाश ने दिया चैलेंज- पुलिस पकड़ सके तो पकड़ा दो, रोज 30 को ठगते हैं हम
इंदौर.बैंक अधिकारी बनकर लोगों से डेबिट और क्रेडिट कार्ड के नंबर पूछकर ऑनलाइन ठगी करने वाले एक आरोपी ने पुलिस को सीधी चुनौती दी है। उसने एक कंपनी के सेल्समैन से 19 हजार 800 रुपए ठगे। किस तरह ठगों ने पुलिस को दी चुनौती…
-बाद में सेल्समैन के दोस्त ने आरोपी को कॉल कर कहा- लोगों को क्यों ठगते हो? आरोपी ने जवाब दिया कि आप लोग खुद बेवकूफ बनते हो। इसलिए हम ठगी करते हैं।
-दोस्त ने बोला कि आपको पुलिस नहीं पकड़ लेगी तो? आरोपी ने चैलेंज दिया कि नंबर तो आपके पास है। पुलिस पकड़ सके तो पकड़वा दो।
-ये शहर का दूसरा वाकया है जब ऑनलाइन ठगी के आरोपी ने सीधे पुलिस को चुनौती दी है।
-इसके पूर्व द्वारकापुरी इलाके में आईएएस की एक छात्रा को आरोपी ने पुलिस द्वारा पकड़वाने पर एक लाख के इनाम की घोषणा की थी।
क्रेडिट कार्ड के आधे से ज्यादा नंबर मुझे बता दिए
-घटना खातीवाला टैंक के वीर सावरकर नगर में रहने वाले 38 वर्षीय हरीश पिता प्रताप राय लालवानी के साथ हुई।
-उन्होंने बताया वे पार्ले कंपनी में सेल्समैन हैं। शुक्रवार को एसबीआई का बैंक अधिकारी बनकर दीपक कुमार श्रीवास्तव नाम से एक ठग ने फोन किया।
-पहले तो उसने मुझे मेरे क्रेडिट कार्ड को आधार से लिंक करने के लिए कहा, फिर मेरे क्रेडिट कार्ड के आधे से ज्यादा नंबर मुझे बता दिए।
-आखिरी के चार अंक उसने मुझसे पूछे और फिर मुझे मोबाइल पर एक ओटीपी भेज दिया।
-ये ओटीपी भी मुझसे पूछ लिया और अलग-अलग कर छह किस्तों में मेरे खाते से 19 हजार 800 रुपए निकाल लिए।
आरोपी बोला- 20 से 30 लोगों को ठगते हैं हम
-घटना के बाद भी आरोपी ने अपना मोबाइल नंबर चालू रखा।
-इस पर मेरे साथी राजकुमार जैन ने आरोपी से बात की तो वह बेखौफ चुनौती देता रहा कि हम तो रोजाना 20 से 30 लोगों से ऐसे ही ठगी करते हैं।
-आपकी पुलिस हमें चाहकर भी पकड़ नहीं सकती। न ही हमें फोन नंबर से ट्रेस कर पाएगी।
-इसके बाद पीड़ित हरीश ने पीपल्याहाना स्थित जिला साइबर सेल को शिकायत की और दोस्त राजकुमार जैन द्वारा आरोपी से की गई बातचीत की रिकॉर्डिंग भी दी।
-साइबर सेल ने केस को चुनौती के रूप में लेते हुए शिकायत दर्ज कर मामले में जांच शुरू कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *