“Bhabhi ko maar diya” youth says after surrendering to police

murderSahibabad (UP): A man named Akash killed his sister in law Anita (29). “Bhabhi ko maar diya” said the youth after surrendering to police. He said that Anita was forcing him to have intercourse with her. He said that he considered his friend as his own brother and therefore he murdered her.
‘भाभी को मार दिया’, थाने में बोला- बात मानता तो दुनिया मुझ पर थूकती
यूपी के गाजियाबाद में एक शख्स ने भाभी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी।
गाजियाबाद. यूपी के साहिबाबाद में बुधवार को एक शख्स ने अपनी भाभी की गला रेत हत्या कर दी। इसके बाद थाने पहुंचा और बोला- मैंने भाभी की हत्या कर दी है। पुलिस ने आरोपी को अरेस्ट कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है।
घर पर अकेली थी भाभी, तभी आया देवर और…
– मामला साहिबााद थाने का है। पुलिस के मुताबिक, बुधवार रात करीब 10.30 बजे अनीता (29) घर पर अकेली थी। पति मेट्रो में ठेकेदारी करता है। इसी बीच उसका देवर आकाश घर पहुंचा और दोनों के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई।
– इसके बाद आकाश ने अनीता के गले पर चाकू से कई वार किए, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। भाभी की हत्या के बाद वो थाने पहुंचा और अपना जुर्म कबूल कर लिया।
– साहिबाबाद थाना प्रभारी राकेश सिंह ने बताया- आकाश के बयान के बाद उसे हिरासत में लेकर पुलिस घटना स्थल पर पहुंची। कमरे में बिखरे सामान को देखकर लग रहा था कि दोनों के बीच लड़ाई-झगड़ा हुआ था।
…तो इसलिए देवर ने दिया घटना को अंजाम
– एएसपी अनूप कुमार ने बताया, आरोपी अनीता का मुंह बोला देवर था। उसके पति ने आकाश को अच्छे व्यवहार के चलते अपने साथ रखा था।
– पूछताछ में आरोपी ने बताया, अनीता उसे पसंद करने लगी थी और लगातार संबंध बनाने का दबाव बना रही थी। मना करने पर कई तरह से प्रताड़‍ित करती थी।
– बुधवार रात भी यही हुआ। आकाश घर पहुंचा और अनीता संबंध बनाने का दबाव बनाने लगी। इसी चलते आरोपी ने पास रखे चाकू से उसपर वार कर दिया, जिसमें उसकी मौत हो गई।
– आरोपी ने जुर्म कुबूल करते हुए कहा कि दोस्त को मैं भाई की तरह मानता था। उसे मैं धोखा नहीं दे सकता था। अगर मैं भाभी की बात मान लेता तो न सिर्फ विश्वास का गला घोंटा जाता बल्कि दुनिया मेरी इस हरकत पर मुझपर थूकती।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *