Bride burned to death by in-laws on road nine days after marriage

murderChandigarh: A woman was burned to death by in-laws on road nine days after marriage at Manimajra. Amrita (25) was married with Gurvinder Singh on September 10, 2017. She was returning from hospital with her mother in law when two bike borne youths intercepted them. They poured kerosene on Amrita and set her afire. She was reduced to ashes. Her parents have accused her in-laws saying that they were against love marriage of Amrita with Gurvinder.
शादी के 9 दिन बाद दुल्हन को सड़क पर जलाया जिंदा, तेल डाल कर लगा दी थी आग
चंडीगढ़.मनीमाजरा में देर रात स्कूटी सवार अमृता पर मिट्‌टी का तेल छिड़क कर दो युवकों ने आग लगा दी। वारदात के समय अमृता अपनी मां माही को लेकर हॉस्पिटल से लौट रही थी। 25 साल की अमृता की शादी 10 सितंबर को ही हुई थी, वो भी पुलिस के दखल के बाद। जीएसएसएच-16 के डॉक्टरों के मुताबिक अमृता 55 फीसदी जल गई है। उसे पीजीआई रेफर कर दिया गया है। पुलिस की प्राथमिक जांच में अमृता पर हमले का शक उसके पति गुरविंदर पर जताया जा रहा है। हॉस्पिटल से लौट रही थी दुल्हन…
– अमृता अपने पति गुरविंदर और मां के साथ मनीमाजरा में किराए के मकान में रहती है।
– मंगलवार रात करीब पौने 12 बजे वह मां को लेकर हॉस्पिटल से लौट रही थी।
– डीसी मॉन्टेसरी स्कूल के पास उसकी स्कूटी पंक्चर हो गई। मां-बेटी पैदल ही जाने लगीं।
– तभी बाइक सवार दो युवक आए। इनमें से एक ने अमृता पर मिट्‌टी का तेल डाल दिया और आग लगा दी।
-अमृता तुरंत लपटों में घिर गई और मां ने शोर मचाया। आसपास से गुजर रहे लोगों ने पीसीआर को कॉल किया।
शादी से पहले अमृता ने की थी गुरविंदर की कम्प्लेंट
– मनीमाजरा थाना एसएचओ हरमिंद्र जीत के अनुसार अमृता उनके पास शिकायत लेकर आई थी कि गुरविंदर शादी नहीं कर रहा। उन्होंने गुरविंदर को बुलाया और उससे बात की।
– हालांकि उसने शादी से इनकार की कोई बात नहीं कही। अमृता की मां के मुताबिक बेटी की 10 सितंबर को गुरविंदर के साथ लव मैरिज हुई थी।
– लड़के के घरवाले शादी के लिए तैयार नहीं थे। शादी मनसा देवी मंदिर में कराई गई थी। मां के मुताबिक अमृता और गुरविंदर के बीच मंगलवार सुबह झगड़ा हुआ था।
– डीएसपी ईस्ट पवन कुमार के मुताबिक अमृता बयान देने की हालत में नहीं है।
– उसकी मां के मुताबिक उनका बीपी लो था। वह आगे चल रही थीं, बेटी पीछे। वह हमलावरों को देख नहीं पाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *