Army man’s love marriage ends with his suicide

suicideGwalior: Retired Army man Shailendra Singh Sikarwar alias Pintoo committed suicide after dispute with his wife Preeti. His wife had gone to police stattion to file FIR against him. He was called to police station for interrogation. He committed suicide after returning from police station.
झगड़ा इतना बढ़ा कि शाम पत्नी पहुंच गई थाने, फिर रात में पति ने किया ये
ग्वालियर. फौज से मेडिकली अनफिट करार दिए जाने पर रिटायर किए गए युवक का पत्नी से विवाद रहता था। विवाद इतना बढ़ा की पत्नी ने थाने में जाकर शिकायत की। इसी बीच युवक ने हाथों की नसें काटकर जहरीली गोलियां खा लीं। ये है मामला….
– MP ऑनलाइन कियोस्क चलाने वाले 33 साल के कौशलेन्द्र सिंह सिकरवार उर्फ पिंटू ने बुधवार रात हाथ की नसों में कट लगाया और जहरीली गोलियां खा कर खुदकुशी कर ली। पिंटू के बाएं हाथ में 14 कट के निशान मिले, और मौके पर पेपर कटर भी मिला।
– गुरुवार सुबह वह कमरे से बाहर नहीं निकला तो घर वाले पहुंचे। कमरे में पिंटू निश्चल पड़ा मिला। परिजन तत्काल पिंटू को मिलिट्री हॉस्पिटल ले गए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।
– घटना की सूचना मिलते ही FSL अधिकारी डॉ. विनोद ढींगरा घटनास्थल पहुंचे, उन्हें कमरे में ब्लड पड़ा मिला। FSL टीम को पिंटू के बाएं हाथ में 14 कट के निशान मिले।
पत्नी ने शाम को पुलिस से की थी शिकायत
– पिंटू का पत्नी प्रीति से विवाद होता रहता था, बुधवार शाम भी दोनों में झगड़ा हुआ। तनाव इतना बढ़ा कि प्रीति पति की शिकायत करने पुलिस थाने पहुंच गई।
– इस पर पुलिस ने पिंटू को थाने बुला लिया पुलिस के बुलाए जाने पर पिंटू थाने तो पहुंचा, लेकिन वह इससे वह आहत हो गया। बाद में वह प्रीति के साथ घर तो आ गया, लेकिन बिना डिनर किए सोने चला गया और रात में उसने सुसाइड कर लिया।

फौज में था पिंटू, मेडिकली अनफिट होने पर हुआ था रिटायर
– कौशलेंद्र सिंह सिकरवार (पिंटू) 6 साल पहले सेना में क्लर्क था। डिप्रेशन की बीमारी हुई तो मेडिकल अनफिट घोषित उसे रिटायर कर दिया गया था, उसे पेंशन मिलती थी। उसका मुरार आर्मी हॉस्पिटल में इलाज भी चल रहा था।
-थोड़ी हालत सही होने पर पिंटू के पेरेंट्स ने प्रीति से उसकी शादी कर दी। शादी के बाद उसके एक बेटा भी हो गया। पिंटू के पिता सुरेश सिंह सिकरवार फॉरेस्ट से रिटायर्ड हैं,परिवार में दो और भाई हैं।
डिप्रेशन की बात छिपाकर की थी शादी
– शादी के बाद पत्नी की शिकायत रही थी कि कौशलेन्द्र के डिप्रेशन के बारे में झूठ बोलकर शादी की गई थी। पति-पत्नी में अक्सर इस बात पर झगड़ा होता रहता था।
– फौज की नौकरी जाने के बाद कौशलेन्द्र ने बहोड़ापुर के पास रामदास घाटी पर दुकान खरीदी थी। परिवार की यही इच्छा थी कि वह आराम से दुकान चलाए, क्योंकि पेंशन के सहारे खाली बैठने पर तनाव और डिप्रेशन हो सकता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *