Nepali woman gang raped for 4 hours in jungle after kidnapping in Faridabad

rapeA Nepali was girl gang raped for 4 hours in jungle after kidnapping in Faridabad. Two criminals abducted her from a road here, took her to jungle and tied to a tree. They continued to rape her for four hours turn by turn.
She was found naked and unconscious by the police later. So far, the criminals have not been identified and arrested.
नेपाली महिला को किडनैप कर जंगल में पेड़ से बांधा, 4 घंटे तक किया गैंगरेप
फरीदाबाद. काम से घर लौट रही नेपाली मूल की एक महिला को दो बदमाश सड़क से उठाकर जंगल में ले गए। वहां उसे एक पेड़ से बांध दिया
फरीदाबाद. काम से घर लौट रही नेपाली मूल की एक महिला को दो बदमाश सड़क से उठाकर जंगल में ले गए। वहां उसे एक पेड़ से बांध दिया। इसके बाद दोनों ने उसके साथ गैंगरेप किया। करीब चार घंटे तक ये महिला से दरिंदगी करते रहे। जाते वक्त बदमाशों ने उसे बेरहमी से पीटा। इसके बाद महिला को बेहोशी की हालत में छोड़कर दोनों भाग गए। जब उसे होश आया तो वह न्यूड थी। जैसे-तैसे घर पहुंची और पति को सारी बात बताई। सुबह महिला को डॉक्टर के पास ले जाया गया। डॉक्टर ने इस बात की सूचना पुलिस को दी। महिला की बात पर यकीन करने में लगे दो घंटे ….
– आमतौर पर महिला थाने में रेप की शिकायतें आधी सच्ची और आधी झूठी होती हैं। लिहाजा इस मामले में भी पुलिस ने महिला के बयान पर यकीन नहीं किया।
– महिला ने जब अपनी चाेट पुलिस कर्मियों को दिखाई, तब उन्हें थोड़ा यकीन हुआ। फिर पुलिस मौका-मुआयना करने पहुंची। वह जगह देखी, जहां रेप हुआ। तब शक यकीन में तब्दील हुआ। इसके बाद केस दर्ज हुआ।
– विक्टिम के दुख को बीके सिविल हॉस्पिटल में डॉक्टरों ने बढ़ा दिया। यहां मेडिकल मुआयना करने में दो घंटे लगा दिए।
– विक्टिम ने एफआईआर तो दर्ज करा दी है लेकिन बदमाशों का कुछ सुराग नहीं लगा है।

घर से बाहर नहीं निकल रही विक्टिम
– विक्टिम के साथ जो हुआ, उसके बाद से वह गहरे सदमे में है। उसने काम पर जाना छोड़ दिया है।
– विक्टिम के पति महिला थाने के चक्कर काटकर अपने केस की जानकारी ले रहा है लेकिन पुलिस ने कह दिया है कि जब कोई सुराग मिलेगा तो उन्हें बुलाया जाएगा।
सीपी हैं घटना से अनजान
भास्कर रिपोर्टर ने सीपी हनीफ कुरैशी से इस मामले की जानकारी ली तो पता चला कि उन्हें इस घटना के बारे में जानकारी ही नहीं थी। लेकिन उन्होंने कहा कि वे इस बारे में एसएचओ सेक्टर-31 और महिला थाना प्रभारी से बात कर कार्रवाई तेज कराएंगे। बदमाश हर हाल में पकड़े जाएंगे। यदि क्राइम ब्रांच टीम या साइबर सेल की मदद लेनी पड़ी तो ली जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *