BJP-controlled Delhi police glorifies fake Sadhvi Radhe Maa in police station

radhe maaNew Delhi: In a shocking display of sycophancy, the Station House Officer of a police station in Delhi’s Vivek Vihar was seen vacating his chair for self-styled godwoman Radhe Maa.
In a photo that emerged from the meeting, Radhe Maa is seen sitting on the SHO’s chair while the senior policeman and other station staff are seen standing with folded hands.
The VIP treatment was accorded to the controversial godwoman when she visited the police station in connection with a dowry case wherein a 32-year-old woman alleged that her husband’s family harassed her on Radhe Maa’s orders.
Radhe Maa, whose real name is Sukhwinder Kaur, hails from Mukerian town of Hoshiarpur in Punjab. The godwoman, known for loud make-up and red attire, also faces cases for allegedly hurting religious sentiments.
The Punjab and Haryana High Court had last month issued a notice against the SSP of Punjab’s Kapurthala district, asking why contempt proceedings should not be initiated against him for failing to act on a complaint against Radhe Maa.
Phagwara-based Surinder Mittal had lodged a complaint against Radhe Maa, seeking registration of a case against her in 2015 for allegedly hurting religious sentiments, threatening and other offences under the IPC. The complainant had also objected to the use of ‘maa’ in the godwoman’s name.राधे मां के लिए दिल्ली के थानेदार ने अपनी कुर्सी छोड़ी, हाथ जोड़े खड़े हो गए
पटरी पर मस्ती करना भारी पड़ा, ट्रेन से टकराया लड़के का सिरपटरी पर मस्ती करना भारी पड़ा, ट्रेन से टकराया लड़के का सिरजानें, महिलाओं के कपड़े फाड़ अश्लील हरकत करने वाले जानवर के वायरल फोटो का सचजानें, महिलाओं के कपड़े फाड़ अश्लील हरकत करने वाले जानवर के वायरल फोटो का सचखाली पेट कभी न पिएं चाय, हो सकती हैं ये परेशानियांखाली पेट कभी न पिएं चाय, हो सकती हैं ये परेशानियांमुंबई हादसे के बाद एक महिला की बॉडी से कंगन चुराए, जेब भी टटोलीमुंबई हादसे के बाद एक महिला की बॉडी से कंगन चुराए, जेब भी टटोलीथाने में बाल संवरवाती महिला एसएचओ का वीडियो हुआ वायरलथाने में बाल संवरवाती महिला एसएचओ का वीडियो हुआ वायरलडिंपल कपाड़िया के हाथों में हाथ डाले घूमते दिखे सनी देओलडिंपल कपाड़िया के हाथों में हाथ डाले घूमते दिखे सनी देओललेडी कॉन्स्टेबल से पुलिस अफसर ने फोन पर की ऐसी बातें, झलकी मिलने की बेताबीलेडी कॉन्स्टेबल से पुलिस अफसर ने फोन पर की ऐसी बातें, झलकी मिलने की बेताबीपुलिसवाले ने रोकी कार तो ताव में उतरा BJP वर्कर, दारोगा को जोड़ने पड़े हाथपुलिसवाले ने रोकी कार तो ताव में उतरा BJP वर्कर, दारोगा को जोड़ने पड़े हाथनहीं रहे विनोद खन्ना, कैंसर के चलते 70 साल की उम्र में निधननहीं रहे विनोद खन्ना, कैंसर के चलते 70 साल की उम्र में निधनबेटी सुहाना को लेकर insecure हुए शाहरुख, मीडिया से करनी पड़ी ये रिक्वेस्टबेटी सुहाना को लेकर insecure हुए शाहरुख, मीडिया से करनी पड़ी ये रिक्वेस्ट
VIDEO: राधे में थाना प्रभारी की कुर्सी पर बैठी थी और पुलिसवाले हाथ जोड़कर खड़े थे।
नई दिल्ली. दिल्ली के विवेक विहार थाने में राधे मां को वीआईपी ट्रीटमेंट देने के मामले में थाना प्रभारी समेत छह पुलिसवालों को लाइन अटैच कर दिया गया है। इस घटना से जुड़ी फोटो में विवादों में घिरी राधे मां इंस्पेक्टर की कुर्सी पर बैठी नजर आ रही है। उसके बगल में ही थाना प्रभारी संजय शर्मा और कुछ दूसरे पुलिसवाले भक्त की तरह हाथ जोड़कर खड़े हैं। शर्मा ने गले में लाल चुनरी डाली हुई है। दिल्ली पुलिस ने एडीशनल डिप्टी कमिश्नर की अगुआई में मामले की जांच के आदेश दिए हैं। राधे मां का एक वीडियो भी सामने आया है। बताया जा रहा है कि यह जीटीवी एन्क्लेव थाने का है। इसमें थाने के पुलिसवाले राधे मां के साथ देशभक्ति गीत गाते नजर आ रहे हैं। रामलीला में आई थी राधे मां…
– मीडिया रिपोर्ट्स में थाने के सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि यह फोटो और वीडियो नवरात्र का है।
– न्यूज एजेंसी ने एक सीनियर पुलिस अफसर के हवाले से बताया कि जीटीवी एनक्लेव थाना क्षेत्र में रामलीला हो रही थी। वीडियो में वहां राधे मां के साथ 5 पुलिसवाले देशभक्ति का गाना गाते नजर आ रहे हैं। इनमें सब-इंस्पेक्टर बृज भूषण और राधे कृष्ण, हेड कॉन्स्टेबल प्रमोद, कॉन्स्टेबल हितेश और रवीन्द्र नजर आ रहे हैं। यह वीडियो राधे मां के फेसबुक पेज पर भी अपलोड किया गया है।
अारोपों पर क्या बोले थाना प्रभारी?
– पुलिस अफसर के मुताबिक थाना प्रभारी संजय शर्मा ने दावा किया है कि राधे मां रामलीला में शामिल होने जा रही थीं। रास्ते में ही विवेक विहार थाना है। यहां उन्होंने अपनी गाड़ी रोकी और पुलिस स्टेशन का वॉशरूम इस्तेमाल करने की इजाजत मांगी थी।
कई मामलों में आरोपी है राधे मां
– बता दें कि राधे मां पर डाउरी हैरेसमेंट, सेक्शुअल हैरेसमेंट और धमकी देने के आरोप लग चुके हैं। हाल ही में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने भी उसे फर्जी संत घोषित किया था।
– इस साल की शुरुआत में मुंबई की रहने वाली एक महिला ने बॉम्बे हाईकोर्ट में राधे मां के खिलाफ पिटीशन लगाई थी। उनका आरोप था कि उनकी बहुओं को राधे मां ने दहेज के लिए प्रताड़ित किया।
– 2015 में गुजरात के एक विधायक ने एक परिवार के सात सदस्यों की खुदकुशी के मामले में राधे मां के खिलाफ जांच कराने की मांग की थी।
कौन है राधे मां?
– राधे मां का जन्म पंजाब के गुरदासपुर जिले के एक सिख परिवार में हुआ था।
– इनकी शादी पंजाब के ही रहने वाले व्यापारी सरदार मोहन सिंह से हुई है।
– शादी के बाद एक महंत से राधे मां की मुलाकात हुई, जिसके बाद से ही उसने आध्यात्मिक जीवन अपनाया।
– कुछ समय बाद वह मुंबई आ गई और राधे मां के नाम से मशहूर हो गई।
– राधे मां के खिलाफ मुंबई, पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश और गुजरात में अलग-अलग केस दर्ज हो चुके हैं। दहेज मामले में मुंबई पुलिस उससे पूछताछ भी कर चुकी है। हालांकि, तमाम आरोपों को राधे मां ने गलत बताया है।
राधे मां समेत 14 संतों को फर्जी घाेषित किया गया
– बता दें कि हाल ही में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने राधे मां समेत 14 लोगों को फर्जी संत घोषित किया है।
– इस लिस्ट में आसाराम, सुखबिंदर कौर उर्फ राधे मां, सच्चिदानंद गिरि उर्फ सचिन दत्ता, गुरमीत राम रहीम, ओमबाबा उर्फ विवेकानंद झा, निर्मल बाबा उर्फ निर्मलजीत सिंह, इच्छाधारी भीमानंद उर्फ शिवमूर्ति द्विवेदी, स्वामी असीमानंद, ओम नमः शिवाय बाबा, नारायण साईं, रामपाल, आचार्य कुशमुनि, बृहस्तपति गिरि और मलखान सिंह के नाम हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *