Biggest sex den raided at Indore, ASI, 3 other cops suspended

sexINDORE: Police have recovered Rs 3.18 lakh from 21 women and 24 men caught red-handed in compromising situations during a raid at a spa and unisex saloon in New Palasia area on Monday night.
The Desire Thai Spa and Unisex Saloon was operated by one Ganesh Rathore, a resident of Shivdham Sector C, for the last two years on second and third floors of Western Corporate House.
“He and his employees – ten of them who have been arrested during the raid – have been soliciting customers through organised phone calls. They were also responsible for providing necessary goods to the customers and housekeeping at the spa saloon,” an official release said.
Police found Rs 1.57 lakh from Ganesh Rathore, Rs 1.06 lakh from customers, Rs 21,500 from spa manager Shivendra Jadon and Rs 33,000 from the girls caught during the raid, it said.
Rathore revealed during interrogation that he had been working at a spa saloon for last six years, before he opened his facility at Western Corporate House in the upscale locality two years ago. He had rented the premises at Rs 1.50 lakh per month.
“Girls from different parts of the state and foreign nations were employed by the spa centre to lure customers for prostitution,” the release said.
Acting on a tip-off the police had raided the centre and caught the men and women in compromising situations. The women claimed that they were employed as masseurs and practiced Thai massage.
A police constable was sent to the spa centre posing as a costumer. Once he gave a signal, the police teams, including personnel from the Mahila Thana and We Care For You cell of the police, barged into the centre and rounded up the women and men.
The centre had a secret passageway that led to the ground floor, right from the rear portion of the floor, indicating that it was used as escape route in the eventuality of a police raid.

इस स्पा में अक्सर आते थे पुलिसवाले, रेड पड़ी तो ASI सहित 4 हुए सस्पेंड
इंदौर। शहर में अब तक के सबसे बड़े हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट मामले में नए खुलासे हुए हैं। जांच में पता चला है कि स्पा सेंटर की आड़ में चल रही अनैतिक गतिविधियों को स्पा संचालक पुलिस के संरक्षण में ही चला रहा था। इस खुलासे के बाद डीआईजी हरिनारायणाचारी मिश्र ने तुकोगंज थाना प्रभारी को नोटिस देकर थाने के एसआई सहित चार कांस्टेबलों को सस्पेंड करने के आदेश दिए हैं। यह भी पता चला है कि बिना कुंडी के दरवाजे पर जब कपल भीतर जाते थे तो बाहर डू नॉट डिस्टर्ब का बोर्ड लगा दिया जाता था और एक लड़की पूरा पैकेज कस्टमर को बताती थी। बोर्ड इस बात का इशारा होता था कि भीतर कपल है। कपल के बाहर अाते ही बोर्ड हटा दिया जाता था।
– डीआईजी मिश्र ने बताया सोमवार को तुकोगंज में न्यू पलासिया स्थित वेस्टर्न कॉर्पोरेट हाउस में संचालित हो रहे डिजायर स्पा सेंटर में क्राइम ब्रांच की टीम ने गोपनीय ढंग से दबिश दी थी। इस स्पा सेंटर से 21 लड़कियां और 24 पुरुषों को पकड़ा गया था। पकड़ाई लड़कियां यहां स्टाफ की कर्मचारी थीं, जो स्पा की आड़ में अनैतिक कारोबार कर रही थीं। वहीं स्पा संचालक गणेश पिता मूलचंद राठौर निवासी शिवधाम और उसके मैनेजर शिवेंद्र जादौन सहित स्पा से जुड़े 10 लोगों पर एम्मोरल ट्रैफिक प्रिवेंशन एक्ट 1956 के तहत केस दर्ज किया है।

लड़कियों के पास से पुलिस को मिले रुपए, संचालक के पास भी मिले लाखों रुपए
कार्रवाई में 24 ग्राहकों से 1 लाख 6 हजार 950 रु, मालिक से 1 लाख 57 हजार रुपये, मैनेजर से 21,500 रुपए और पकड़ाई युवतियों से 33 हजार रुपए जब्त हुए हैं। ये सेंटर पिछले 4 सालों से संचालित था। जिसे संचालक गणेश उर्फ विजय राठौर ने 1 लाख 50 हजार में किराए पर लिया था। इस सेंटर को किराए पर देने वाले उसके मालिक को भी आरोपी बनाने के निर्देश दिए हैं।

बीट इंचार्ज एएसआई और कांस्टेबलों का था आना-जाना
– क्राइम ब्रांच की कार्रवाई के बाद अफसरों को जानकारी मिली की उक्त स्पा सेंटर तुकोगंज पुलिस के एएसआई और कांस्टेबलों के संरक्षण में संचालित हो रहा था। डीआईजी ने इस लापरवाही पर बीट प्रभारी एएसआई एमरकस टोपो सहित थाने के कांस्टेबल सचिन शर्मा और थाने से लसूड़िया थाने ट्रांसफर किए गए कांस्टेबल रामकृष्ण और रामप्रसाद को सस्पेंड किया है। वहीं टीआई राजकुमार यादव को नोटिस देकर जवाब मांगा है। सूत्र बताते हैं स्पा सेंटर के संचालक गणेश उर्फ विजय राठौर ने पुलिस थाने पर निचले स्टॉफ से तगड़ी सेटिंग कर रखी थी। इसी कारण कोई भी पुलिसकर्मी स्पा सेंटर की ओर झांकता भी नहीं था। वहीं कुछ पुलिस अधिकारी भी इस सेंटर पर आते-जाते थे। डीआईजी ने पुलिस कर्मियों को चिन्हित करने के लिए भी कहा है।

थाईलैंड से आई युवतियों के पासपोर्ट जांच के आदेश
– स्पा सेंटर से पकड़ाई विदेशी व थाईलैंड की युवतियों के पासपोर्ट की भी पूरी जानकारी लेने के लिए निर्देश दिए हैं। ये पता लगाया जा रहा है कि ये युवतियां घूमने के हिसाब से यहां आई हैं या फिर नौकरी का विजा लेकर। उसे चेक कर उसमें उल्ल्घंन पाये जाने पर उनके खिलाफ भी सख्त एक्शन लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *