Why this women empowerment officer lady committed suicide?

suicideIndore : A female officer of women and child development department committed suicide by hanging self from ceiling at her residence under Lasudiya police station area on Saturday. However, no suicide note has been recovered from the spot.
Investigating officer ASI KK Mishra said that the deceased has been identified as Neelam Sood, 49, a resident of Nipania area. She was staying with her elder son at her aunt’s place in Sun City for about one-and-half month.
The incident was discovered by her son on Saturday morning, who immediately took her to hospital, but it was too late. Later, police were informed about the incident.
Sources said that she was felicitated by CM for her excellent work in the department.
Preliminary investigation revealed that Neelam was posted in Dewas as a women empowerment officer in women and child development department. Sources claimed that Neelam was also felicitated by the Chief Minister for her excellent work in the department.
Police are investigating the case and also, recording statements of her family members.
She was diagnosed with cancer a few days ago after which she came under depression, police said.
CM ने दिया था अवार्ड, जानें, क्यों जिंदगी से हार गई ये खुशमिजाज अफसर
इंदौर। एक सरकारी अधिकारी ने अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। मृतका नीलम सूद देवास में महिला बाल विकास विभाग में अधिकारी थीं।उन्हें कर्मठ, कुशल और खुशमिजाज अधिकारी के रूप में जाना जाता था। बाल विवाह रोकने और महिला सशक्तिकरण के लिए उत्कृष्ट कार्य करने पर मुख्यमंत्री ने उन्हें पुरस्कृत भी किया था।

– लसूड़िया थाने के SI केके मिश्रा ने बताया कि सन सिटी निवासी नीलम पति वीरेंद्र सूद ने शनिवार को अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उनका बड़ा बेटा उनके कमरे में पहुंचा तो मां फांसी के फंदे पर लटक रही थी।

– इस पर उसने अपने भाई को बुलाया, बाद में उनके शोर मचाने पर पड़ोसी इकट्ठा हुए और नीलम को एमवाय अस्पताल लेकर पहुंचे।यहां जांच के बाद डॉक्टर्स ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मृतका नीलम महिला बाल विकास विभाग में महिला सशक्तिकरण अधिकारी थीं। वे देवास में पदस्थ थी और इंदौर से अपडाउन करती थी।

– मिली जानकारी के अनुसार 10 साल पहले नीलम का पति वीरेंद्र से तलाक हो चुका था। वे अपने दोनों बेटों दिग्विजय और तेजस के साथ सन सिटी में रहती थीं। कुछ समय पहले उन्हें लंग में कैंसर की बीमारी का पता चला था, डॉक्टर्स ने बताया था कि कैंसर ज्यादा गंभीर स्थिति में नहीं है और ठीक हो सकता है। लेकिन इसके बाद वे काफी तनाव में आ गई थी। संभवतः उसी तनाव में उन्होंने फांसी लगा ली।

सीएम ने किया था सम्मानित

-नीलम की पहचान महिला बाल विकास विभाग में कुशल और कर्मठ अधिकारी के रूप में थी। वे बेहद खुश मिजाज थी, खुद पारिवारिक तनाव झेलने के बाद भी वो महिलाओं की हौंसला अफजाई करती थी। बाल विवाह रोकने और महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उन्हें पुरस्कृत भी किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *