Bullet Rani Sana Iqbal dies in car accident, family calls it murder

sana-iqbal-diesSana Iqbal, a cross-country motorcyclist who undertook a nationwide expedition to raise awareness about suicide and depression, died in a car crash in Hyderabad early on Wednesday, police said.
Her husband was injured in the accident that took place on the outskirts of the city around 3.30 am, a police official said.
Sana (29) and her husband Abdul Nadeem were travelling in a car and heading home in Tolichowki here when it rammed the median on the Outer Ring Road, said Narsingi Police Station Inspector G V Ramana Goud.
“Sana’s husband Abdul Nadeem was driving the car. Sana, who suffered severe injuries in the mishap, was shifted to a nearby hospital but was declared brought dead. Her husband, who received injuries, is undergoing treatment,” Goud said. The Times of India quoted police officials as suggesting that the car was overspeeding. Her family was quoted by the Deccan Chronicle as saying that Sana’s death was murder and demanding a probe.
The Hyderabad-based rider hit the headlines in 2015 when she undertook a solo 38,000-kilometre motorcycle expedition on her Royal Enfield Bullet across the country to raise awareness about suicide. She was quoted in the media as saying that she undertook the ride hoping for an accident to end her life but that the journey helped her battle depression and suicidal thoughts.
The focus of her campaign was to educate people, particularly students, against committing suicide.
A case under IPC section 304A (causing death by negligence) and other relevant sections was registered, police added.
मुंबई/हैदराबाद:’एंटी सुसाइड मिशन’ के तहत 38,000 किलोमीटर अपने बाइक से यात्रा करने वाली हैदराबाद की ‘बुलेट रानी’ के रूप में फेमस सना इकबाल की मंगलवार को एक कार एक्सीडेंट में डेथ हो गई। सना ‘सुसाइड इज नॉट द सोल्यूशन’ का संदेश देते हुए गोवा, महाराष्ट्र, यूपी, एमपी, पंजाब और राजस्थान के कई शहरों को अपनी बाइक से कवर कर चुकी हैं। कुछ महीने पहले सना अपनी बाइक के साथ मुंबई आईं थी। ऐसे हुई दुर्घटना…
– 29 वर्षीय सना अपने हसबैंड के साथ हैदराबाद के बाहरी इलाके टोली चौकी जा रही थीं। नार सिंही के पास उनकी कार अनियंत्रित हो गई और पलट गई।
– नार सिंही के इंस्पेक्टर जीवी रमन ने बताया कि सना के पति अब्दुल नदीम का नियंत्रण कार से छूट गया और वह इलेक्ट्रिक पोल से टकरा गई।
– टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कार का अगला हिस्सा बुरी तरह से डैमेज हो गई और सना के सिर में गंभीर चोट लगी। इसके बाद उसे स्थानीय पुलिस इलाज के लिए पास के प्राइवेट हॉस्पिटल में लेकर आई।
– जहां इलाज के दौरान सना ने दम तोड़ दिया। सना के पति को भी निचले हिस्से में गंभीर चोट लगी है। उसका इलाज जारी है।
– पुलिस ने इस मामले में आईपीसी की धारा 304A और 337 के तहत केस दर्ज किया है। मामले में जांच जारी है।
सना की मां का आरोप, बेटी की हुई हत्या
– बाइकर सना की मां ने आरोप लगाया है कि उनकी बेटी की हत्या की गई है और इसे हादसे का रूप दिया गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि सना का अलग रह रहा पति अब्दुल नदीम और उसकी मां सना को प्रताड़ित करते थे।
– नरसिंगी पुलिस स्टेशन के सब इंस्पेक्टर सुधीर कुमार ने कहा, ‘सुपुर्द-ए-खाक के लिए परिवार को सौंपे जाने से पहले सना के शव को ओसमानिया हॉस्पिटल भेज दिया गया है। हमने पुलिस स्टेशन में एक केस दर्ज कर लिया है। जांच में हमने पाया है कि तेज गति से चलने के कारण कार डिवाइडर से टकरा गई थी।’ – उन्होंने बताया कि टक्कर की वजह से कार का बायां हिस्सा पूरी तरह से बर्बाद हो गया। हालांकि दोनों ने सीट बेल्ट पहन रखा था लेकिन कार में एयर बैग नहीं था।
तीन साल पहले हुई थी पिता की डेथ
– हैदराबाद में जन्मी सना के पिता का तीन साल पहले निधन हो गया था। सना अपने पीछे एक डेढ़ साल का बेटा छोड़ गई हैं। सना की फैमिली में उनकी एडवोकेट मां और दो बहनें हैं।
– सना ने साइकोलॉजी में मास्टर डिग्री हासिल की थी। इसके अलावा वे डिप्रेशन के शिकार लोगों की काउंसलिंग का काम भी करती थी।
ऐसी थी सना की ‘एंटी सुसाइड यात्रा’
– सना 7 साल की उम्र से बाइक चला रही हैं। साल 2015 में उन्होंने गोवा से ‘एंटी सुसाइड यात्रा’ शुरू की थी। इस यात्रा में सना ने अपनी रॉयल एनफील्ड बाइक से 38 हजार किलोमीटर का सफर तय किया।
– सना ने अपनी बाइक यात्रा को ‘एंटी सुसाइड यात्रा’ नाम दिया था। इसमें में देश के अलग-अलग शहरों के स्कूलों और कॉलेजों में पहुंचकर बच्चों को डिप्रेशन से निकलने के सुझाव देती थीं।
– सना इकबाल लोगों की समस्याओं और सवालों के जवाब देकर उन्हें डिप्रेशन से निकलने के तरीके बताती थीं। सना लोगों को बताता थीं कि सुसाइड किसी भी चीज का सोल्यूशन नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *