Dangerous selfie kills girl at waterfall

selfiePatalpani Indore: A 16-year-old girl died after falling from Patalpani waterfall near Mhow while clicking a selfie on Friday evening.
Badgonda police station in charge Hitendra Singh Rathore told TOI that Rishika Raiwal, a resident of Lal Baag Model Village Colony of Indore, had gone to the famed Patalpani waterfall on Friday afternoon along with her mother Sushma and sister Shivani on their scooter.
According to the statement given by her mother and sister, Rishika fell into the waterfall at 5.30 in the evening. They shouted for help, and other picnickers rushed to their aid, but she was dead by the time they could locate her. Witnesses say the trio was standing near the iron railing and looking at the waterfall. They were also clicking pictures of each other when Sushma and Shivani suddenly started shouting for help.
झरने के खतरनाक पाइंट पर खड़े होकर सेल्फी ले रही लड़की 150 फीट नीचे गिरी
इंदौर।महू के पर्यटन स्थल पातालपानी में शुक्रवार शाम झरने के ऊपरी हिस्से में खड़े होकर सेल्फी ले रही लड़की की 300 फीट नीचे कुंड में गिरने से मौत हो गई। वह अपने मोबाइल को गिरने से बचाने के चक्कर में संतुलन खो बैठी व नीचे जा गिरी। डूबने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई।
– जानकारी अनुसार शुक्रवार को धर्मावती पति राकेश राईवाल निवासी लालबाग इंदौर अपनी दो बेटी खुशबू व ऋषिका के साथ पातालपानी पिकनिक मनाने पहुंची थी। इस दौरान मां व बड़ी बेटी खुशबू पार्किंग में बैठे थे व छोटी बेटी ऋषिका (16) झरने पर सेल्फी लेने चली गई।
– सेल्फी लेते समय लड़की के हाथ से मोबाइल छूटने लगा, तो उसे संभालने के चक्कर में उसका संतुलन बिगड़ा व पैर फिसलने से वह झरने से नीचे कुंड में जा गिरी। इसमें डूबने से उसकी मौत हो गई। डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद देर शाम शव को ग्रामीणों व केंटबोर्ड फायर ब्रिगेड की मदद से ऊपर लाया जा सका।
– बड़गोंदा थाना प्रभारी हितेंद्रसिंह राठौर ने बताया किशोरी झरने पर सुरक्षा रैलिंग लांघकर सेल्फी लेने गई थी। इस दौरान संतुलन बिगड़ने से उसकी कुंड में गिरने से मौत हो गई।
रेलवे ट्रैक वाले रास्ते से टार्च की रोशनी में कंधे पर लादकर ऊपर लाए शव…
– 300 फीट नीचे कुंड में उतरे 100 डाॅयल के पायलट विजय चौधरी, ग्रामीण मुकेश सहित तीन-चार युवक खड़ी चट्टानों पर करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद शव को ऊपर लेकर पहुंचे। अंधेरा होने से पार्किंग स्थल तक शव को लाने के लिए रेलवे ट्रैक वाले रास्ते पर टार्च की रोशनी का सहारा लिया गया। यहां से तत्काल पुलिस ने शव मध्यभारत अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

आंखोदेखी….
– घटना के समय मौके पर मौजूद पार्किंग व्यवस्था देखने वाले मुकेश कोहली ने बताया यह तीनों मां बेटी दोपहिया वाहन से शाम 4 बजे करीब पहुंचे थे। मैंने इनसे आते ही पार्किंग का पैसा मांगा तो इन्होंने कहा आकर देते हैं। फिर यह गन्ने का रस पीने चले गए। वहां से मां व उसकी एक बेटी ही वापस आई। मैंने फिर पार्किंग मांगी तो उन्होंने कहा हमारी दूसरी बेटी आ रही है फिर आपको पैसे दे रहे हैं। इसके बाद अचानक जोर से आवाज आई बचाओ…, मैं झरने की तरफ भागा नीचे देखा तो पानी में युवती के दोनों हाथ नजर आ रहे थे। हम तुरंत नीचे पहाड़ों के रास्ते से नीचे उतरने लगे, लेकिन जब तक नीचे पहुंचे तो उसकी मौत हो चुकी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *