Married youth brutally murdered, face smashed

murderUdaipur: A 27 years old married youth was brutally murdered with his face smashed. Unknown persons had called Vinod to a deserted place and threw chilli powder in his eyes. Later, they murdered him.
6 महीने पहले की थी लव मैरिज, ऐसी खौफनाक मौत की पहचानना हुआ मुश्किल
उदयपुर.छह महीने पहले लव मैरिज करने वाले एक 27 साल के युवक की सिर और चेहरा कुचलकर बेरहमी से हत्या कर दी गई। युवक रात से ही घर से गायब था, जिसकी तलाश में उसका पिता रातभर इलाके के थानों के चक्कर लगाता रहा। दूसरे दिन उसे बेटे की जगह उसकी लाश मिली। लाश की हालत इतनी खराब थी कि उसे पहचानना भी मुश्किल था। पिता ने उसके कपड़े और लाश देखकर उसकी पहचान की।

आंखों में लाल मिर्ची डाल दी ऐसी खौफनाक मौत
वारदात स्थल पर लाश के पास पॉलीथिन बैग में लाल मिर्च पाउडर था। हालांकि, हत्यारों ने विनोद का चेहरा बेरहमी से कुचल दिया था मगर उसके चेहरे पर लाल मिर्च पाउडर दिखाई दे रहा था। उसकी दोनों आंखें बाहर निकल कर लटक गई थी। हत्यारों ने उसकी सिर, नाक की हड्डियां तोड़ दी थी। पुलिस सूत्रों के अनुसार हत्यारों ने लाल मिर्च पाउडर डाल कर लूटपाट के इरादे से विनोद की हत्या होना दर्शाने का प्रयास किया होगा।
पिता ने कपड़े और बाइक देख की बेटे की लाश की पहचान
– सोमवार रात 9 बजे तक विनोद घर नहीं पहुंचा तो उसके पिता प्यारेलाल धानमंडी थाना गए। ड्यूटी अफसर ने उनकी शिकायत एक कागज पर लिख ली थी और कंट्रोल रूम जाकर इत्तला देने को कहा।
– यहां से पप्पूलाल ने रात साढ़े 9 बजे कंट्राेल रूम में सूचना दी थी। यही नहीं विनोद का कार्य स्थल साइफन चौराहा पर होने से रात 11 बजे पप्पूलाल रिपोर्ट लिखाने अंबा माता थाने गए थे। वहां ड्यूटी अफसर ने सूचना नोट करके विनोद का पता लगाने का आश्वासन दिया था।
– मंगलवार सुबह एक राहगीर ने सुखेर थाने में फोन कर खेलगांव के पास भैरोंगढ़ होटल के सामने 200 फीट रोड से पचास फीट दूर एक लाश के पड़े होने की सूचना दी ।
– पुलिस मौके पर पहुंची तब तक मृतक के पिता रात भर से गायब बेटे को खोजते हुए सुखेर थाना पहुंच गए। पुलिस उन्हें अज्ञात युवक की लाश मिलने की सूचना देकर मौके पर ले गई। प्यारेलाल ने कपड़े और बाइक देख शव की पहचान की।
लव मैरिज के दौरान किसी से रंजिश का भी शक
– विनोद अपने माता-पिता का इकलौता बेटा था। उसकी एक छोटी बहन है। छह माह पूर्व उसने अपने समाज की युवती से कोर्ट में प्रेम विवाह किया था। कुछ दिन बाद परिवारों ने रजामंदी से दोनों की समाज के रीति रिवाज के अनुसार शादी कर दी थी।
– हत्या के पीछे पुलिस को लव मैरिज के दौरान किसी से रंजिश का भी शक है। रिश्तेदारों ने बताया कि दोनों परिवारों के बीच संबंध तनावपूर्ण नहीं थे।
किसी ने फोन कर खेलगांव में गाड़ी ठीक करने के लिए बुलाया था
विनोद के पिता सेनेटरी मिस्त्री है। शोरूम मालिक पीयूष भंसाली ने बताया कि विनोद सोमवार शाम को गाड़ी रिपेयर कर रहा था। करीब साढे 6 बजे उसके किसी परिचित का फोन आया था। फोन पर बात करने के बाद विनोद ने भंसाली को बताया कि उसके दोस्त की बाइक खेलगांव के पास बिगड़ गई है, जिसे ठीक करने जा रहा है। शाम 6.40 बजे वह अपनी पल्सर बाइक से चित्रकूट नगर जाने को कह कर गया था।
पुलिस मौके पर पहुंची तब विनोद का माेबाइल फोन बज रहा था
पुलिस जब मौके पर पहुंची लाश केे पास पत्थर के नीचे पड़े मोबाइल फोन की बेल बज रही थी। थानाधिकारी मांगीलाल ने विभाग के आईटी विशेषज्ञों से फोन की जांच कराई। रात भर में फोन पर 251 मिस कॉल आ चुकी थी। जिनमें अधिकांश उसके घर से थी। शातिर हत्यारों ने वह रिसीव कॉल डिलीट कर दी थी जिससे विनोद को खेलगांव बुलाया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *