Two boybriends of wife murdered Vinod Mali

murderUdaipur: In a major breakthrough, Udaipur police was successful in solving a murder mystery within 24 hours and arrested the deceased’s wife and her two lovers for the crime. Monika do Prahlad Mali resident of Kanghi Mohalla in Nimbahera of Chittorgarh district, Durgesh Teli resident of Nimbahera and Kapil Mali resident of Raoji-ka-hata Udaipur were arrested on wednesday for the conspiracy and murder of Vinod Mali a 27-year old motor mechanic whose body was found on the 200-feet road near Khelgaon circle under Sukher police station area on tuesday morning.
Some passerby had informed the police of the body and since the victim’s head was smashed completely, the police had no clue unless his family members showed up at another police station to lodge a man missing complaint. ” During theinvestigation it was found that Vinod was a simple man and had no rivalry with anybody. We were informed that he had had a court marrige 6 months ago and his wife Monika had lived at her parents home in Nimbahera for few months after marriage” SP Rajendra Prasad Goyal said. Further investigation revealed that Vinod was upset with his wife as she frequently spoke to a man in Nimbahera and another person in Udaipur. Taking the clue, the cops quizzed his wife thoroughly and the woman confessed that she had got both her lovers Durgesh and Kapil to get her hubby out of their way. Monika also said that Vinod had damaged her SIM card and taken away her mobile and warned her not to speak to the men. This had infuriated her and she thought of a plan to get rid of him. She made a plan with Durgesh and Kapil to kill Vinod.
On Monday morning Durgesh called Vinod on the pretext for asking to repair his motorcycle and when the latter arrived at the said spot, both the men sprayed chilli powder in his eyes and smashed his head with a heavy stone. They both deleted the received call records from the victim’s mobile and fled from the spot. Later Kapil dropped Durgesh at Pratapnagar circle and Durgesh boarded a bus to get back home. After some time Monika used her neibour’s mobile phone to call Kapil to enquire whether they had completed the mission and Kapil replied in the pre-set code word ‘Jai Mata di’ which meant that the task was completed successfully. ” We have arrested the three accused and detailed interrogation is going on to get more details” Mangilal Punwar, SHO Sukher police station said.
महिला बाेली- पति को मार डालो या फिर मुझे, 2 प्रेमियाें ने दी ऐसी खौफनाक मौत
उदयपुर.सोमवार रात को सुनसान इलाके में मिली लाश की मंगलवार को विनोद माली के तौर पर पहचान किए जाने के 24 घंटे के अंदर पुलिस ने ब्लाइंड मर्डर केस को सुलझा लिया है। मामले में मृतक की पत्नी और उसके दो प्रेमियों को गिरफ्तार किया गया है। दरअसल मृतक विनोद के साथ मोनिका की मर्जी के खिलाफ कोर्ट मेरिज हुई थी, जिससे वह उससे छुटकारा पाना चाहती थी। मोनिका ने अपने पुराने प्रेमी दुर्गेश तेली और दूसरे प्रेमी विनोद की बहन के देवर के साथ मिलकर हत्या की साजिश रची थी।

पत्नी के अफेयर बना जान का दुश्मन
– पुलिस के मुताबिक, मोनिका 12 साल की थी तब उसकी शादी भींडर के रहने वाले हिम्मत माली के साथ हुई थी। छह साल भींडर में रहने के बाद हिम्मत से मोनिका का तलाक हो गया।
– इसके बाद मोनिका 3 साल तक मायके में रही। तलाकशुदा होने और दुर्गेश से अफेयर होने के कारण माेनिका के घरवालों ने उसकी मर्जी के खिलाफ विनोद के साथ 5 महीने पहले कोर्ट में शादी करवाई, लेकिन मोनिका विनोद के साथ में नहीं रहना चाहती थी।
– पिछले 3 साल से मोनिका का दुर्गेश के साथ अफेयर था। वहीं ससुराल में रहने के दौरान मोनिका की कपिल के साथ भी दोस्ती हो गई। दुर्गेश से दोस्ती की भनक विनोद को लगी तो मोनिका का मोबाइल तोड़ दिया और सिम ले ली।
– विनोद से झगड़ा होने पर वह मायके चली गई। घरवालों ने दबाव बना विनोद के पास भेजा और यहां आकर कपिल और दुर्गेश से मिलकर हत्या की साजिश रची।
पिता ने कपड़े और लाश देखकर की थी बेटे की पहचान
– छह महीने पहले ही लव मैरिज करने वाले 27 साल के विनोद माली की सोमवार रात सिर और चेहरा कुचलकर बेरहमी से हत्या कर दी गई।
– विनोद रात से ही घर से गायब था, जिसकी तलाश में उसका पिता रातभर इलाके के थानों के चक्कर लगाता रहा। दूसरे दिन उसे बेटे की जगह उसकी लाश मिली। लाश की हालत इतनी खराब थी कि उसे पहचानना भी मुश्किल था। पिता ने उसके कपड़े और लाश देखकर उसकी पहचान की थी।
बाइक खराब होने का बहाना बना ठीक करने बुलाया फिर पत्थर से कुचला सिर
– तीनों आरोपी पिछले 15 दिन से विनोद को रास्ते से हटाने का प्लान बना रहे थे। मोनिका के पास मोबाइल नहीं होने के कारण उसने अपनी सास यानी विनोद की मां कन्या के मोबाइल से दुर्गेश तेली को फोन करके कहा कि या तो विनोद को मार दो या मुझे मार दो।
– दुर्गेश कपिल उर्फ बिट्टू से बात कर मौका-ए-वारदात पर पहुंचा। फिर कपिल ने मोटर साइकिल खराब होने और उसे ठीक करने का बहाना बनाकर विनोद को मौके पर बुलाया।
– विनोद जैसे ही वहां पर पहुंचा तो दुर्गेश को देखते ही सकते में आ गया। वह दुर्गेश को पहले से जानता था। इस दौरान कपिल ने विनोद के सिर पर पाने से वार कर दिया।
– विनोद जख्मी होकर कुछ दूर तक भागा। उसका चश्मा गिर गया तो दुर्गेश ने मिर्च पाउडर विनोद की आंखों में झोंक दी। इसके बाद दोनों ने पत्थर उठाकर सिर पर वार किए, जिससे उसकी मौत हो गई।
पड़ोसन के मोबाइल से फोन कर पूछा- काम हुआ, जवाब आया- जय माता दी
हत्या के बाद शाम 7 से 8 बजे मोनिका ने अपनी पड़ोसन माया के मोबाइल से कपिल को फोन लगा विनोद के बारे में पूछा तो कपिल ने कोड वर्ड में जय माता दी यानी विनोद की हत्या कर दी है कहा। कपिल ने दुर्गेश को प्रतापनगर चौराहे पर बुलाया और परिवार की शादी में शामिल होने चला गया।
कॉल डिटेल से पकड़ा गया कपिल, फिर खुलते गए राज
कॉल डिटेल आने के बाद शक के दायरे में आए कपिल को मंगलवार शाम को पुलिस पकड़कर थाने ले गई फिर मोनिका को भी पकड़ा। दोनों से पूछताछ हुई तो उन्होंने दुर्गेश के बारे में भी बताया। स्पेशल टीम दुर्गेश की टावर लोकेशन के आधार पर निंबाहेड़ा गई और उसे गिरफ्तार कर थाने लाई। यहां तीनों ने अपना जुर्म कबूल किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *