Crime show anchor Suhaib Ilyasi held guilty of wife’s murder

murderNEW DELHI: As the anchor of India’s Most Wanted television series, Suhaib Ilyasi detailed the tales of desperate criminals over hour-long episodes. His own story took 17 years to unfold. On Saturday, the former TV host was convicted by a Delhi court of murdering his wife. While the detailed judgment wasn’t made available on the day, sentence is likely be pronounced on December 20.
On January 10, 2000, 29-year-old Anju Ilyasi had been rushed to an east Delhi hospital with fatal stab wounds in her belly. She had bled excessively and could not be revived. When police questioned him, Ilyasi had told them that his wife had stabbed herself during a heated argument with him.
Two and a half months after the incident, on March 28, Ilyasi had been arrested and charged with harassing his wife for dowry (Section 498A of IPC), causing dowry death (Section 304B) and tampering with evidence (Section 201).
“Additional sessions judge S K Malhotra convicted Ilyasi under Section 302 of the Indian Penal Code for murder on Saturday,” said lawyer Satender Sharma, counsel for the complainants, Anju’s mother and sister.
Advocate Manu Sharma, who argued in Ilyasi’s defence, told TOI he would be in a better position to comment once he read the detailed judgment. “The copy of the court order has not been provided to us,” Manu Sharma explained. He, however, added that an appeal against the conviction would be moved in Delhi high court once the sentence is read out on December 20.
On August 12, 2014, the Delhi high court had ordered the framing of murder charges against Ilyasi after Anju’s mother pleaded that Ilyasi had “deliberately and intentionally” given a wrong statement about the death of his wife. Satender Sharma also argued that the statement of the doctor who conducted the post-mortem and was a prosecution witness did not rule out the possibility of homicide.
In support of his submission, the prosecution lawyer pointed out that the knife with which Anju was alleged to have committed suicide showed no fingerprints either of the accused or the victim, despite Ilyasi having claimed that he had snatched the weapon of offence from his wife as she tried to kill herself.
क्राइम शो इंडियाज मोस्ट वॉन्टेड का एंकर सुहैब इलियासी पत्नी की हत्या के मामले में दोषी करार
सुहैब लंदन के एक टीवी चैनल में काम करता था। 1996 में वह भारत आया और क्राइम बेस्ड सीरियल पर काम शुरू किया। -फाइल
नई दिल्ली. टीवी सीरियल इंडियाज मोस्ट वॉन्टेड से मशहूर हुए सुहैब इलियासी को पत्नी अंजू की हत्या के मामले में दोषी करार दिया है। न्यूज एजेंसी एएनआई ने यह जानकारी दी है। दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट इस मामले में 20 दिसंबर को सजा का एलान करेगी। बता दें कि 11 जनवरी 2000 को सुहैब के घर पर उनकी पत्नी अंजू की संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी। मर्डर करने के लिए कैंची का इस्तेमाल किया गया था। बाद में आरोप सुहैब पर ही लगा और उसे 28 मार्च 2000 को गिरफ्तार कर लिया गया।
पहले दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज हुआ था

– सुहैब को पहले पत्नी को दहेज के लिए प्रदताड़ित करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। कहा जा रहा था कि उसने इसी वजह से खुदकुशी की।

– हालांकि, 2014 में दिल्ली हाईकोर्ट ने अंजू की मां की पिटीशन पर ट्रायल कोर्ट को ऑर्डर दिया कि इसे हत्या के मामले के तौर पर भी देखे।

अंजू के घरवालों ने लगाया था आरोप

– इस मामले की जांच में पाया गया कि सुहैब और अंजू के बीच दहेज को लेकर अक्सर झगड़ा होता था।

– पत्नी की हत्या के बाद सुहैब ने अंजू की फ्रैंड को फोन करके बताया था कि उसने सुसाइड कर ली है।

– बाद में अंजू के परिवारवालों ने सुहैब पर ही दहेज के लिए प्रताड़ीत करने और हत्या करने का आरोप लगाया था।

कौन है सुहैब इलियासी?

– सुहैब का जन्म दिल्ली में हुआ था। उसने जामिया मिल्लिया इस्लामिया से जर्नलिज्म की पढ़ाई की। इसके बाद वो लंदन चला गया। वहां उसने टीवी एशिया में काम किया। वो इस चैनल का प्रोग्राम प्रोड्यूसर रहा।

– 1996 में सुहैब भारत आया और एक क्राइम बेस्ड रिएलिटी शो पर काम शुरू किया। यह तैयार हुआ तो इसे नाम दिया गया- ‘इंडियाज मोस्ट वांटेड।’ बहुत जल्द यह देश का सबसे पॉपुलर टीवी प्रोग्राम बन गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *