Professor throws ailing mother from 4th floor killing her

murderRajkot (Gujarat): A 36-year-old assistant professor was arrested on Thursday for allegedly killing his 64-year-old mother by pushing her off the terrace of their residential building in the city in September last year, police said.
Sandip Nathwani, who teaches in a local Pharmacy college, allegedly pushed his mother Jayshreeben to death on September 29 as he was “fed up” with her illness, according to police.
Initially, the Nathwani family had claimed that Jayashreeben fell off the terrace after losing her balance as she was suffering from some brain disease.
However, police changed the direction of the investigation on receipt of an unknown application.
“After receiving the application, we checked CCTVs installed in the apartment and the recording clearly suggested that Sandip was with Jayshreeben when she fell off the terrace,” said DCP, Zone II, Karanjraj Vaghela.
He said Sandip Nathwani initially denied the allegation against him, but later “confessed” to his involvement in the crime.
“He told us that he was fed up with his mother’s illness. Sandip told us that on the day of the incident he took his mother to the terrace and pushed her,” Vaghela said.
The officer said Nathwani complained of uneasiness during the interrogation today and was admitted to hospital.
He would be formally arrested once he is discharged from the hospital.
Police registered an FIR against Nathwani under section 302 (Punishment for murder) of the IPC on the basis of the application received by them.
गुजरात के राजकोट में एक प्रोफेसर ने अपनी मां की छत से फेंककर हत्या कर दी
गुजरात के राजकोट में एक प्रोफेसर ने अपनी मां की छत से फेंककर हत्या कर दी। उसकी मां ब्रेन हेमरेज होने की वजह से बिस्तर पर थी। प्रोफेसर लाचार मां की देखभाल और इलाज से परेशान हो चुका था। घटना पिछले साल सितंबर की है, लेकिन खुलासा गुरुवार को हुआ। सीसीटीवी ने बेटे की निर्ममता की सारी करतूतों को खोलकर रख दिया। पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद बेटे ने कहा- मैं रोज-रोज की लड़ाई से थक गया था। मां और पत्नी के बीच आए दिन झगड़े होते थे। मजबूर होकर मां को चौथी मंजिल से फेंक दिया। फुटेज में साफ-साफ नजर आ रहा है कि बेटा मां को लेकर बाहर निकलता है…। इस दौरान उसकी वाइफ का भी अग्रेसन दिखता है। यह गुस्सा पता नहीं, मां पर था या पति पर।

सीसीटीवी में दिख रहा है कि प्रोफेसर ने मां को रूम से बाहर निकाला और सीढ़ियों की तरफ बढ़ा। फुटेज देखकर यही लगता है, जैसे मां को मौत का आभास हो चुका था, तभी वो पैर आगे नहीं बढ़ा रही थी। पहली सीढ़ी के पास वो जैसे पहुंची, पैर थम गए। बेटे के बार-बार कहने के बावजूद पैर शून्य हो चुके थे। इसके बाद वो जबरन मां का बायां पैर आगे बढ़ाता है। एक-एक पैर को वो खुद उठाता और सीढ़ियों पर आगे बढ़ाता जाता है। प्रोफेसर इस तरह मां को छत पर ले गया। इसके बाद वो हुआ, जिसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है। लाचार मां को उसने 4th फ्लोर से धक्का दे दिया और दबे पांव रूम के अंदर आ गया।

तकरीबन 5 मिनट बाद सीढ़ियों से हांफते हुए एक आदमी ऊपर आता है और चिल्लाते हुए प्रोफेसर को आवाज लगाता है। प्रोफेसर ने इसके लिए पहले से तैयारी कर रखी थी। तभी वो टेंशन और चेहरे पर मां के गिरने के अफसोस को जताते हुए बाहर निकलता है। पीछे से पत्नी भी गंभीर मुद्रा में बाहर आती है। दोनों भागते हुए नीचे जाते हैं और फिर रोना-चीखना-चिल्लाना शुरू हो जाता है। 3 महीने से चले आ रहे इस नाटक का आखिरकार गुरूवार को पर्दाफाश हो ही गया।

क्या है ये मामला?

– प्रोफेसर का नाम संदीप है। उसकी मां का नाम जयश्रीबेन है। वह टीचर थी। ब्रेन हेमरेज की वजह से जयश्रीबेन बिस्तर पर थी। उसके परिवार में दो बेटियां और बेटा संदीप है। वह बेटा, बहू रचना और पोती के साथ रहती थीं। ऐसा कहा जा रहा है कि सास-बहू में खटपट होती थी।

तीन महीने पहले हुई थी जयश्रीबेन की मौत

– गांधीग्राम के दर्शन एवेन्यू में रहने वाली जयश्रीबेन विनोदभाई नाथवानी की 27 सितंबर को बिल्डिंग की छत से गिरने के बाद मौत हो गई थी। पुलिस ने इसे हादसा मानते हुए मामला बंद कर दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *