Man kidnaps and murders neighbourer’s son to clear his debts

murderPatna:The 16-year-old son of a property dealer who was kidnapped for ransom on Thursday was found murdered here on Friday, police said.
The body of Raunak Kumar, a Class 9 student and son of Sudhir Kumar, was found in a shuttered shop in Kadamkuan locality.
His hands were tied with a rope.
“Raunnak was kidnapped by motorcycle-borne criminals in broad daylight on Thursday morning when he was on way to his school,” Patna’s Senior Superintendent of Police Manu Maharaj said.
According to a relative, the kidnappers demanded a ransom of Rs 25 lakh from his father for the teenager’s safe release. Sudhir Kumar received repeated phone calls from the abductors.
One of the kidnapper arrested on Friday revealed that the boy was killed after the father failed to cough up the money on time.
The opposition mounted fresh attacks on the government of Nitish Kumar over what they said was rising lawlessness in the state.
“Hardly a day passes without murder, kidnapping, extortion and robbery reported in the state but Nitish Kumar is more busy in his ‘yatra’,” RJD state President Ram Chander Purve said.
पटना में प्रॉपर्टी डीलर के बेटे की अगवा कर हत्या, 3 लाख का कर्ज चुकाने के लिए पड़ोसी ने रची थी साजिश
पटना.बिहार की राजधानी में किडनैपर्स ने 25 लाख की फिरौती के लिए प्रॉपर्टी डीलर के बेटे (14 साल) की हत्या कर दी। इस मामले में पुलिस ने शुक्रवार को 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया। उनकी निशानदेही पर अगमकुआं इलाके की दुकान से बच्चे की बॉडी बरामद की। पुलिस के मुताबिक, मुख्य आरोपी विक्की प्रॉपर्टी डीलर का पड़ोसी है। उसने कर्ज चुकाने के लिए बच्चे को अगवा किया और परिवार से फिरौती की मांग की। आरोपी ने बताया कि मृतक लड़का उसका दोस्त था।
बच्चे को अपने साथ दुकान ले गया आरोपी

– पुलिस के मुताबिक, पटना के चनाकयनगर में रहने वाले सुधीर कुमार का बेटा रौनक 9th क्लास का स्टूडेंट था। गुरुवार को पड़ोसी विक्की रौनक को अपने साथ दुकान ले गया और मुंह पर टेप लगाने के बाद रौनक के हाथ-पैर बांधकर बंधक बना लिया।

– पुलिस ने जांच के बाद इस मामले में सुबह विक्की को गिरफ्तार किया। उसकी निशानदेही पर दुकान से रौनक की बॉडी बरामद की। इसके बाद विक्की के दो और साथियों को पकड़ा गया।
आरोपी को भैय्या कहकर बुलाता था रौनक

– आरोपी विक्की ने पूछताछ में बताया कि उसके ऊपर 3 लाख रुपए का कर्ज था। इसे चुकाने के लिए रौनक को अगवा करने का प्लान बनाया। रौनक उसका दोस्त था और भैय्या कहकर बुलाता था।

– पुलिस ने कहा कि इससे पहले कि विक्की को पकड़ा जाता, उसने रौनक को मौत के घाट उतार दिया। शुरुआती जांच में बच्चे की गर्दन से लेकर मुंह तक टेप लिपटा मिला। उसकी गर्दन पर किसी धारदार हथियार के वार करने के निशान मिले हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *