Mother and daughter raped and burned alive at Amritsar

murderThe charred bodies of a mother-daughter duo were recovered from their house in Darshan Nagar locality of Amritsar on Tuesday. Police have registered a murder case against unidentified persons after preliminary investigations and are awaiting the post-mortem reports to confirm if there was any rape attempt on the daughter. Government employee Gagandeep Verma (41) used to live with her daughter Shivnaini (21) who had recently completed her graduation. Verma, who had two marriages, had estranged her second husband seven years ago. Her son Ridham Verma had left for Canada on a study visa in December 2017.
Neighbours were first to notice smoke coming out of the house around 2 am, following which they informed the police and fire brigade.
The SHO of Sultanwind police station Neeraj Kumar said the main gate of the house was open and it suggest that accused were known to the victims. “But it is too early to reach any conclusion. We will wait for the autopsy report and call details for further development in the case. For now we have registered a murder case against unidentified persons,” said the SHO.
कमरे में मिला था मां-बेटी का कंकाल, दोनों का किया था रेप फिर दी ऐसी दर्दनाक मौत
अमृतसर.दर्शन एवेन्यू में सोमवार रात मारी गई गगनदीप वर्मा और उनकी बेटी शिवनैनी का बुधवार को गुरुनानक देव मेडिकल कॉलेज के फोरेंसिक डिपार्टमेंट के विशेषज्ञों ने पोस्टमार्टम किया। 22 वर्षीय शिवनैनी की हत्या पेट में टूटी बोतल घोंपे जाने से हुई। उससे रेप हुआ या नहीं, इसकी पुष्टि के लिए स्वैब खरड़ की फारेंसिंक साइंस लैब भेजे गए हैं।
– शिवनैनी के पैर जले हुए थे लेकिन कमर से ऊपर का हिस्सा सही था।
– गगनदीप का शरीर बुरी तरह जला होेने के कारण मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया।
– जलने के कारण उसकी एक बाजू अलग हो चुकी थी। उधर, पुलिस की जांच गगनदीप की कॉल डिटेल से मिले सुरागों के इर्द-गिर्द घूमती रही।
– एक मौजूदा कांग्रेसी पार्षद को भी पूछताछ के लिए बुलाया गया लेकिन वह पूरे दिन बहाने बनाकर बचने का प्रयास करता रहा।
– सूत्रों के अनुसार, पिछले समय में इस पार्षद की गगनदीप से लंबी बातें होती रही हैं।
पुलिस छानती रही खाली प्लाट
– ADCP क्राइम एचएस धालीवाल और एसीपी साउथ मनजीत सिंह बुधवार सुबह 10 बजे दर्शन एवेन्यू में गगनदीप की कोठी पर पहुंचे।
– पुलिसकर्मियों ने सुराग की तलाश में आसपास के खाली प्लाट खंगाले। सीन क्रिएट कर देखा गया कि कातिल कहां-कहां से भाग सकते थे।
– पुलिस को घर से शराब की खाली बोतल भी मिली। दर्शन एवेन्यू के अलावा पुलिस अजीतनगर भी पहुंची, जहां गगनदीप दो साल पहले बेटे-बेटी के साथ रहती थी।
– यहां लोगों से उसके व्यवहार वगैरह को लेकर जानकारी जुटाई गई। पुलिस ने क्रिमिनल रिकाॅर्ड वाले तकरीबन 10 लोगों को भी राउंडअप किया। ये सभी सुल्तानविंड इलाके के रहने वाले हैं।
कनाडा से नहीं आया बेटा
– पोस्टमार्टम के बाद दोपहर 3.30 बजे गगनदीप के भाई संजीव ने दोनों का शिवपुरी में संस्कार कर दिया।
– संस्कार में कनाडा से बेटा रिद्धिम नहीं आया। रिश्तेदारों और कनाडा में रहते एक दोस्त ने उसे रोक दिया।
– रिद्धिम को सहारा देने के लिए अमेरिका से कुछ रिश्तेदार भी कनाडा पहुंच रहे हैं।
– पुलिस ने गगनदीप के दोनों पूर्व पतियों को भी बुलाया है। वे गुरूवार को बयान दर्ज करवा सकते हैं।
– पुलिस इनसे गगनदीप के व्यवहार को समझना चाहती है। वह जानना चाहती है कि गगनदीप के करीबी कौन थे और उसकी किसी से दुश्मनी तो नहीं थी?
ये था मामला
– गगनदीप वर्मा जंडियाला के सरकारी कन्या स्कूल में क्लर्क थीं। बेटी शिवनैनी ने हाल ही में बीकाॅम की पढ़ाई पूरी की थी।
– रात को करीब दो बजे पड़ोस में रहने वाले किसी व्यक्ति ने उनके घर आग की लपटेंदेखीं। शोर मचाकर आस-पड़ोस वालों को इकट्ठा किया।
– गगनदीप की दो शादियां हुई थीं, दोनों टूट चुकी थीं। पुलिस ने बताया कि दो साल पहले ही गगनदीप वर्मा ने यहां कोठी नंबर 175 खरीदी थी। कई साल पहले गगनदीप का तलाक हो चुका था।
– वह अपने दो बच्चों के साथ यहां रह रही थीं। बेटा रिधिम 20 दिसंबर को ही पढ़ाई करने कनाडा गया था। घर पर मां-बेटी ही रहती थीं।
– वारदात जिस तरह की गई उससे लगता है 3 से 4 लोग शामिल थे। पुलिस के मुताबिक यह हत्याकांड लव-अफेयर की रंजिश के तहत हुआ लगता है। हालांकि मां-बेटी दोनों के साथ रेप हुआ, इसकी पुष्टि पोस्टमार्टम के बाद ही होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *