Shahabuddin’s right-hand man shot dead in Delhi

A 32-year-old property dealer was gunned down by three bike-borne assailants, while he was waiting in his Wagon R car at a traffic signal in southwest Delhi’s Dwarka Sector-23 on Wednesday evening. At least half a dozen bullets were fired at the car, four of which hit the property dealer, killing him on the spot.
Police said the murder was a fallout of a ‘gangwar’ in Bihar’s Siwan district between two suspected gangsters, one led by a criminal-turned-politician who is lodged in a Delhi prison. The property dealer, identified as Feroz Ali, was purportedly working for the jailed gangster-turned politician. The rival gangster, Rahees Khan, too is lodged in a jail in Bihar, said police.
Two of the attackers were chased and caught by seven policemen, including three traffic personnel, deployed at an integrated police picket in Dwarka Sector-21 with the help of local people. The third suspect managed to flee with the property dealer’s car.
“The two arrested men were identified as Sabir Hussain and Amzad Ali, both from Bihar. A murder case was registered against them,” said Santosh Kumar Meena, additional DCP (Dwarka). Two pistols were seized from them.
A police officer associated with the case said the attackers were ‘hitmen’ hired by Rahees Khan to kill Feroz. “The arrested duo has told us that they were paid Rs 1 lakh each by Rahees’s aide for the contract killing. They had come to Delhi only to execute the killing of Feroz,” said the officer, adding the third attacker who fled in Feroz’s car has been identified as Sanjay.
During interrogation, the officer said, the two men revealed that they were approached by Sanjay in Bihar’s Siwan with the murder plan. The two joined in the plan after Sanjay offered to pay them Rs 1 lakh each for killing Feroz. The three then came to Delhi in a train two days ago and started tracking Feroz’s movements and his daily routine, the officer said.
“A contact of Rahees provided the men a motorcycle and firearms. The three tailed Feroz for almost two kilometers and opened fire at him the moment he stopped his car at the traffic signal,” the officer said. Feroz came out of the car and collapsed on the road. Sanjay drove away with his car.
“Feroz too had criminal cases against him in Bihar,” said the additional DCP.
बिहारी प्रॉपर्टी डीलर को 4 गोलियां मारीं, बाइक से भाग रहे बदमाश बैरिकेड से टकराए
नई दिल्ली.बिहार के गैंगस्टरों की दिल्ली बुधवार शाम दिल्ली के द्वारका इलाके में गैंगवार हुई। इसमें बिहार के पूर्व राजद सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के करीबी फिरोज अली की हत्या कर दी गई। उसे चार गोलियां लगीं। हत्या का आरोप रहीस गिरोह के गुर्गों पर लगा है। फिराेज की हत्या करके रहीस गैंग शहाबुद्दीन का बिहार में दबदबा कम करना चाहता था।
– गिरोह के दोनों बदमाशों को पुलिस ने वारदात अंजाम देकर भागते समय पकड़ लिया। पकड़े गए दोनों आरोपियों की पहचान सबीर हुसैन और अमजद अली के रूप में हुई है।
– पुलिस ने दोनों के पास से वारदात में प्रयुक्त हथियार भी बरामद कर लिए हैं। उधर, आरोपियों के साथ मौजूद एक हमलावर संजय फरार होने में कामयाब हो गया।
– संजय फिरोज अली की वैगनआर कार लेकर फरार हुआ है। फिरोज और आरोपी सभी बिहार के सिवान जिले के रहने वाले हैं और अपराधी हैं।
बाइक से भाग रहे बदमाश बैरिकेड से टकराए
– अतिरिक्त पुलिस आयुक्त संतोष कुमार मीणा के अनुसार, बुधवार शाम करीब 7 बजे पुलिस को द्वारका सेक्टर 22 के चौक पर गोलियां चलने की सूचना मिली थी। पता चला था कि बाइक पर आए युवकों ने वैगन आर से जा रहे एक युवक को कार से उतारकर गोलियों से भून दिया।
– पुलिस जांच के लिए मौके पर पहुंची तो जांच टीम को सूचना मिली कि वारदात को अंजाम देकर भाग रहे तीन हमलावरों में से दो को द्वारका सेक्टर 21 मेट्रो स्टेशन के पास वाहनों की जांच कर रही पुलिस टीम ने पकड़ लिया है।
– बाइक सवार बदमाश तेज रफ्तार में भागने की कोशिश कर रहे थे। पुलिस द्वारा रुकवाए जाने पर भागने के दौरान बैरिकेड से टकरा गए। गिरने के बाद भी एक बदमाश भागने की कोशिश कर रहा था, जिसे लोगों ने दबोच लिया।
महिपालपुर में प्रॉपर्टी डीलर का काम करता था फिरोज
– आरोपियों की गोली से घायल हुए युवक को पुलिस ने अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
– फिरोज अपने परिवार के साथ महिपालपुर में रह रहा था और प्रॉपर्टी डीलर का भी काम करता था।
– हत्या की सूचना मिलने के बाद जिला पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे। प्राथमिक जांच के बाद आरोपियों और मृतक के बारे में जानकारी मिलने पर पुलिस अधिकारी सकते में आ गए।
रहीस गैंग ने कराई हत्या, पकड़े गए गुर्गे सुपारी किलर
– पुलिस की प्राथमिक जांच में सामने आया कि इस गैंगवार के पीछे बिहार की पुरानी रंजिश और राजनीति है। पुलिस द्वारा गिरफ्तार दोनों आरोपी रहीस गैंग से हैं और सुपारी किलर हैं।
– रहीस इन दिनों हत्या, हत्या के प्रयास और डकैती जैसे विभिन्न मामलों में बिहार की जेल में बंद है।
– तीनों आरोपियों को रहीस ने ही फिरोज की हत्या के लिए दिल्ली भेजा था और ये दो दिन पहले ही दिल्ली आए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *